BUMS

BUMS (बैचलर ऑफ़ यूनानी मेडिसिन एंड सर्जरी) यूनानी चिकित्सा और सौर्गेरी के क्षेत्र में एक स्नातक डिग्री प्रोग्राम है| BUMS डिग्री यूनानी प्रणाली के चिकित्सा ज्ञान को शामिल करता है। यूनानी मेडिकल क्षेत्र में चिकित्सक (हाकिम) बनने के लिए यह डिग्री काफी है | यूनानी वैकल्पिक दवाइयों की प्रणाली है रोगियों को मानव शरीर की प्राकृतिक चिकित्सा शक्ति को बढ़ाकर ध्यान रखा जाता है। यूनानी की अवधारणा यह है कि शरीर स्वयं को स्वयं चिकित्सा शक्ति की वजह से खुद को फिर से जीवंत बनाता है | BUMS बैचलर यूनानी चिकित्सा के क्षेत्र में लोकप्रिय डिग्री है। यह UG डिग्री है जो नौकरी पाने के लिए लगभग पर्याप्त है। इस डिग्री को 5.5 साल के शैक्षणिक कार्यक्रम के पूरा होने के बाद 4 से 5 साल के शैक्षणिक सत्र और लाइव व्यावहारिक कार्यक्रम के साथ 1 वर्ष के इंटर्नशिप कार्यक्रम के साथ दिया गया है। यूनानी प्रणाली में स्नातक कार्यक्रम दूरस्थ शिक्षा प्रणाली के माध्यम से अपनाया जा सकता है।

BUMS में एडमिशन, करियर, स्कोप, नौकरियां और सैलरी की पूरी जानकारी 

यूनानी प्राचीन चिकित्सा प्रणाली है जो यूनानी दवाइयों का उपयोग करके शरीर की प्राकृतिक चिकित्सा प्रणाली को बढ़ाने में मदद करने के लिए रोगियों के उपचार में सहायता करता है| एलोपैथिक, आयुर्वेदिक और होम्योपैथिक प्रणाली के बाद भारत में यूनानी चौथी सबसे लोकप्रिय दवा प्रणाली है। इस प्रणाली के अनुसार मानव शरीर में चार तत्व हैं, जैसे कि रक्त, कफ, पीले पित्त और काली पित्त। यह चार तत्वों की आयु में आयुर्वेद के समान है और आयुर्वेद के रूप में लोकप्रिय है | भारत में और विदेशों में कई कॉलेज हैं, जो चिकित्सा देखभाल यूनानी प्रणाली में डिप्लोमा और डिग्री कार्यक्रम प्रदान करते हैं। इन दिनों कई भारतीय युवा लोग यूनानी प्रणाली को आकर्षित कर रहे हैं। युवा छात्र की पीढ़ी ने यूनानी चिकित्सा अध्ययन को तेजी से अपनाया है। इस क्षेत्र में डिप्लोमा, स्नातक, स्नातकोत्तर और शोध कार्यक्रम जैसे कई अध्ययन कार्यक्रम उपलब्ध हैं। BUMS कोर्स की पूरी जानकारी प्राप्त करने के लिए नीचे दिए गये विवरण को ध्यानपूर्वक पढ़ें |

BUMS में एडमिशनBUMS में एडमिशन के लिए प्रक्रिय निम्न प्रकार से है :

  • BUMS कार्यक्रम में एडमिशन लेने के लिए विद्यार्थीयो को 10 + 2 की परीक्षा 50% अंकों के साथ उत्तीर्ण करनी होगी। विद्यार्थी के पास 12 वीं कक्षा में भौतिकी, रसायन विज्ञान और जीव विज्ञान विषय होने चाहिए। 12 वीं कक्षा में भाषा उर्दू या उर्दू भाषा में प्रवीणता रखने वाले छात्रों ने प्रवेश में प्राथमिकता दी है।
  • यूनानी शिक्षा का विनियमन निकाय भारत में भारतीय चिकित्सा परिषद (CCIM) की केंद्रीय परिषद है। भारत में सिर्फ 35 मेडिकल कॉलेज हैं जो यूनानी प्रणाली में शैक्षिक कार्यक्रम प्रदान करते हैं। कुछ प्रतिष्ठित संस्थान राष्ट्रीय और राज्य स्तर के प्रवेश परीक्षा के माध्यम से प्रवेश प्रदान करते हैं। छात्र BUMS कोर्स में प्रवेश के लिए KEAM (राज्य स्तर की परीक्षा) में उपस्थित हो सकते हैं। उम्मीदवार न्यूनतम 17 वर्ष का होना चाहिए|

BUMS के लिए कुछ कॉलेजस के नाम : BUMS के लिए कुछ कॉलेजस की सूची नीचे दी गयी है |

  • सरकारी निजामीया तिब्बिया कॉलेज, हैदराबाद, आंध्र प्रदेश
  • डॉ अब्दुल हक यूनानी मेडिकल कॉलेज, कुर्नूल, आंध्र प्रदेश
  • आयुर्वेद और यूनानी तिब्बिया कॉलेज (यूनानी), दिल्ली
  • चिकित्सा संकाय (यूनानी), जामिया हमदर्द, दिल्ली
  • यूनानी मेडिकल कॉलेज और अस्पताल, श्रीनगर, जम्मू और कश्मीर

BUMS में करियर / स्कोप / नौकरियां : BUMS कोर्स पूरा होने के बादविद्यार्थीयो के लिए करियर का अवसर न केवल भारत में बल्कि विदेश में भी है कई संगठन और अनुसंधान संस्थान विदेश में विनिर्माण और शोध के क्षेत्र में काम कर रहे हैं ताकि इस क्षेत्र में पेशेवरों की आवश्यकता हो। BUMS (बैचलर ऑफ यूनानी मेडिसिन एंड सर्जरी) वालेविद्यार्थीयो को हकीम (डॉक्टर) के रूप में बुलाया जा सकता है और निजी प्रैक्टिस करने के पात्र हैं। यूनानी व्यवसायी एक चिकित्सकीय प्रतिनिधि या निजी या सरकारी अस्पताल में डॉक्टर के रूप में करियर को देख सकते हैं। इस क्षेत्र के पेशेवरों ने यूनानी तैयारी के साथ काम करने वाली कंपनियों में काम कर सकते हैं। BUMS पूरा होने के बाद आपको यूनानी कॉलेजों में प्रोफेसर या शोधकर्ता के रूप में नौकरी मिल सकती है। एलोपैथिक उपचार से बड़ी संख्या में लोग संतुष्ट नहीं हैं। यह वैकल्पिक उपचार को जन्म देता है।

BUMS के लिए जॉब प्रोफाइल : BUMS के लिए जॉब प्रोफाइल निम्न प्रकार की हो सकती है :

  • हकीम
  • कंसलटेंट
  • लेक्चरर
  • साइंटिस्ट
  • थेरापिस्ट
  • प्राइवेट प्रैक्टिस
  • फार्मासिस्ट
  • मेडिकल असिस्टेंट
  • पब्लिक हेल्थ स्पेशलिस्ट
  • स्पा डायरेक्टर

BUMS के लिए रोज़गार के क्षेत्र : BUMS पूरा होने के बाद रोज़गार के निम्न क्षेत्र है |

  • यूनानी मेडिकल कॉलेजस
  • यूनानी चैरिटेबल इंस्टिट्यूटसंस
  • यूनानी क्लिनिक
  • यूनानी मेडिसिन स्टोर
  • यूनानी एंड आयुर्वेदिक रिसर्च इंस्टिट्यूटस
  • यूनानी कंसल्टेंसीस
  • यूनानी मेडिकल सिस्टम एजुकेशन ट्रेनिंग इंस्टिट्यूटस
  • लाइफ साइंस इंडस्ट्रीज
  • हेल्थकेयर कम्युनिटी
  • यूनानी फार्मास्यूटिकल इंडस्ट्रीज जैसे हमदर्द
  • यूनानी सरकारी हॉस्पिटल्स
  • यूनानी प्राइवेट हॉस्पिटल्स
  • नर्सिंग होम इन यूनानी केयर
  • यूनानी डिस्पेंसरीस

BUMS के लिए अनुमानित फीस : BUMS के लिए फी स्ट्रक्चर अलग अलग कॉलेज में अलग अलग है जो की 50,000 से 5,00,000 तक हो सकता है |

BUMS के लिए वेतनमान : चिकित्सा क्षेत्र में वेतन अन्य क्षेत्रों में बेंचमार्क है यूनानी फील्ड में भी इस संबंध का बकाया है। सरकारी क्षेत्र में यूनानी डॉक्टर की सैलरी 12000-15000 रूपए प्रति माह है, जबकि निजी क्षेत्र में यूनानी डॉक्टर की सैलरी 15000 रुपये प्रति माह से शुरू होती है। 2-4 वर्ष के अनुभव के साथ, आप 20000 से 25000 रूपए प्रति माह वेतन प्राप्त कर सकते हैं।

Click here to check about all courses after 12th Science

Click here to check about BMLT courses

Click here to check about BHMS courses

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here